On Facebook

ऋषि-मुनि बनले "मुनिया" – बदनाम भइल मुन्नी: प्रधानमंत्री जी के #भोजपुरी में भाषण 🤣 🤣😂😅😘

चुनावी ही सही लेकिन प्रसंसनीय अ सराहनीय पहल बा की माननीय प्रधानमंत्री जी पूर्वांचल में कउनो भी सभा के आरम्भ भोजपुरी में करीला…उहा के साधुवाद!

भोजपुरी में मानकीकरण के प्रचुर सम्भावना बा, जेतना लिखाई ओतने कसाव आयी…..खैर भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री से ही नेता इम्पोर्ट होता, त कुछ त मुन्नी बदनाम होब्बे करि….एके मनोरंजन के दृस्टि से देखि…..

अविनाश त्रिपाठी
फ्लोरिडा, अमेरिकाPurvanchal Express-Way का शिलान्यास करने Azamgarh पहुंचे PM Modi ने Bhojpuri में की Speech की शुरुआता Website: www.nmfnewsonline.com/ Subscribe Us for…
See MoreSee Less

View on Facebook

त्योहारों को ‘संस्कृति का वाहक’ माना जाता है। इसे प्रयोग की तरह देखे! आपको और आपके पुरे परिवार को "भाई" परिवार की तरफ से ईद की अनंत शुभकामनाएं!

महक उठी है फ़ज़ा पैरहन की ख़ुशबू से
चमन दिलों का खिलाने को ईद आई है
(असदुल्लाह)

#ईदमुबारक! #EIDMubarak

अविनाश त्रिपाठी/Avinash Tripathi
फ्लोरिडा, अमेरिका
See MoreSee Less

View on Facebook

Dear #Bhojpuri/Jharkhand/Bihar/UP NRI Associations –

Before you plan hosting Bhojpuri artists for your cultural/festive events please invest a minute to lookup YouTube to establish the credentials of who you are picking up for performing at the event. Almost ALL of them barring a few that you can count on your fingers, sing sleaze/semi-porn/singularly vulgar songs – one that I am sure you cannot listen to in a family setting; and of course these are in no-way culturally representative of the land of Ram, Sita, Buddha, Mahaveer and Guru Govind to name a few.

My humble request is to undertake the accountability to weed out vulgarity which has penetrated so deep in Bhojpuri, that vulgar is now the new normal. Its like how people living near a tannery, no more feel the foul smell of animal remains.

There is a need be extra cautious because of
momentum gaining in India and worldwide against these sleaze singers. Sensing this attack, these singers have started targeting greener pastures overseas, where audience is more gullible because of lack of awareness about their track record. They will promise they will not sing vulgar songs, but they will eventually sing because 90% of vulgar is what they have sung in the past.

Most of the time the organizers excuse themselves by saying they did not know the background of these singers.
So again – please invest a minute and do a YouTube search with Bhojpuri + <singer name>, before thinking of hosting these singers.

Tarun Kailash & Swasti Pandey
Swasti Bhojpuri Music USA Youtube Channel
San Jose, California, USA
See MoreSee Less

View on Facebook

#प्रेस जलज कुमार अनुपम संभालेंगे "भाई" के दिल्ली चैप्टर की कमान – भाई कार्यकारणी की गोरखपुर में एक महत्वपूर्ण बैठक में लिया गया फैसला! भाई के दिल्ली चैप्टर की बैठक जून १० को –

जलज कुमार अनुपम मूलतः चम्पारण, बिहार के रहे वाला बाड़ें । जलज कुमार अनुपम मुख्य रूप से एगो अभियंता बाड़ें अ साहित्य के क्षेत्र में एगो युवा हस्ताक्षर के रूप में उभरत नाम बाटे! जलज अपना दोस्त लोगन के संगठित करके हम और आप फाउंडेशन नाम के एगो संस्था 2014 में शुरू कइलें जवन कौशल विकास अउरी समाजिक क्षेत्र में जागरूकता पर काम करेला । जलज संस्था के संस्थापक अध्यक्ष बाड़ें । 2015 में जलज कुमार अनुपम नौकरी छोड़ के कंसेंट एलीवेटर्स नाम के एगो कम्पनी शुरू कइलें । 2017 से हर्फ़ मिडिया प्रा. लि. में भी जलज कुमार अनुपम मुख्य कार्यकारी निदेशक बाड़ें।

2018 में मैथिलि भोजपुरी अकादमी ,दिल्ली सरकार के सहयोग से जलज कुमार अनुपम के एगो भोजपुरी कविता के संकलन “हमार पहचान” आ चुकल बाटे अउरी हर तरफ एकर चर्चा हो रहल बाटे । जलज कुमार अनुपम आजकल भोजपुरी बाल साहित्य पर काम कर रहल बाड़ें। जलज कुमार अनुपम प्रबंध संपादक के रूप में भोजपुरी मंथन आ नज़र नज़रिया से जुड़ल बाड़ें । जलज कुमार अनुपम सर्व भाषा ट्रस्ट के त्रैमासिक पत्रिका के क्रिएटिव एडिटर भी बाड़ें!

सचिव कार्यालय, गोरखपुर
राष्ट्रीय कार्यकारणी
#भोजपुरी एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (भाई)
See MoreSee Less

View on Facebook